VIDEO: बाल का’टने वाला नाई बना ‘क’साई’, चापड़, हथोड़ा और टूटे कांच से का’ट रहा लोगों के, वीडियो हुआ वायरल

जबसे सोशल मीडिया आया है लोग मशहूर होने के लिए तरह तरह के का’र’ना’मे करने लगे हैं। ब’द’ना’म हुए तो क्या नाम न होगा कि त’र्ज पर लोग तरह तरह के ऊट पटांग काम करते हैं जिससे वो मशहूर हो जाएं और लोग उनको जानने लगें। ऐसा ही एक का’र’ना’मा पा’कि’स्ता’न का एक हाई प्रो’फा’इ’ल ना’ई कर रहा है। पाकिस्तान का ये ना’ई उ’स्त’रे या कैं’ची की जगह ह’थो’ड़े और चा’प’ड़ जैसी ख’त’र’ना’क चीजों से लोगों का हे’य’र स्टा’इ’ल बना रहा है। ये बालो को कां’च से से’ट करता है, उन्हें आ’ग लगाकर स्टाइल बनाता है। इसके खौ’फ’ना’क तरीके ने जहां सोशल मीडिया पर ह’ल’च’ल मचा दी है वहीं दूसरी तरफ लोग इसे ल’ता’ड़ भी रहे हैं।

pakistani Barber- India TV Hindiयूट्यूब पर A’r’y s’t’o’ries नामक चैनल पर पाकिस्तान के इस नाई के का’र’ना’मों का एक वीडियो पिछले दिनों ए’य’र किया गया। इस वीडियो में ला’हौ’र के इस नाई का नाम अली अ’ब्बा’स बताया गया है। जैसा कि वीडियो में देखा जा सकता है, अली अब्बास बाल का’ट’ने के साधारण औ’जा’रो की जगह क’सा’ई के चा’प’ड़ से बाल का’ट रहे हैं। वो ह’थौ’ड़ा इस्तेमाल कर रहे हैं। टू’टा हुआ कां’च और साथ ही बालों में आ’ग लगाने का उनका तरीका किसी को भी भ’य’भी’त कर सकता है।

जरा सोचिए अगर चा’प’ड़ आपके बालों पर चल रहा हो, और आपकी जु’बा’न या ग’र्द’न जरा भी हि’ली तो क्या हाल होगा। इतना ही नहीं टूटे कां’च से बाल त’रा’श’ना या बालों में आ’ग ही लगा देना भी ड’रा’व’ना अनुभव हो सकता है।

अली अब्बास के अनोखे तरीके से बाल का’ट’ने की तकनीक तब फे’म’स हो गई जब एक ग्राहक ने उनका वीडियो बना लिया। लोग अनोखे तरीके को पसंद करने लगे और उनकी दुकान पर लाइन लग गई। यहां औ’र’तें भी बाल कटवाने के लिए आने लगी। फिर कुछ न्यूज चैनलों ने भी अ’ली के कारनामे को टीवी पर दिखाया तो अली पाकिस्तान में मशहूर हो गए।

यूं तो दुनिया का द’स्तू’र है कि नया और है’र’त’अं’गे’ज कुछ भी हो, लोगों को पसंद आता है लेकिन यहां अली अब्बास के इस का’र’ना’मे की तारीफ के साथ साथ खिं’चा’ई भी हो रही है। एक यूजर ने अली अ’ब्बा’स को संबोधित करते हुए पूछा है कि पहले क’सा’ई थे क्या।
वहीं एक अन्य यूजर ने कहा है कि इस तरह के ए’क्ट को प्रो’त्सा’हित नहीं करना चाहिए यह बहुत ही ख’त’र’ना’क है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page