अयोध्या की विवादित जमीन का वाजिब उत्तराधिकारी बताकर सुर्ख़ियों में आए प्रिंस याकूब हबीबुद्दीन तुसी खुद को बहादुर शाह जफर और अकबर का वंशज बताते हैं. उनके अनुसार वे जाफर की छठी पीढ़ी से आते हैं. उन्होंने जब इस बात का खुलासा मीडिया के सामने किया तो लोग चौंक गए.

Image result for prince yakub mughal
भले ही प्रिंस याकूब के इन दावों की लोग सच नहीं मानते हों, लेकिन वे खुद किसी बादशाह की तरह ही रहते हैं. उनकी शाही शेरवानी हो या सिर पर कलगी टोपी. सब शाही अंदाज में रहता है. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो याकूब अपने साथ सिक्यूरिटी लेकर भी चलते हैं. जब भी वे ताजमहल या किसी एतिहासिक जगह पर जाते हैं तो उनके साथ गार्ड मौजूद रहते हैं.Image result for prince yakub mughal

उन्होंने अपनी शाही जीवन की कई तस्वीरें भी फेसबुक पर शेयर की है. उनकी पत्नी हो या बच्चे सब शाही वेशभूषा में आपको नज़र आयेंगे और उनके नाम भी किसी बादशाह की तरह ही हैं.

Image result for prince yakub mughal

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक, प्रिंस याकूब हैदराबाद के रहने वाले हैं और वो खुद को मुग़ल सल्तनत का वारिस बताते हैं. सबसे बड़ी बात तो यह कि वे ताजमहल को भी अपनी संपत्ति बताते हैं. याकूब के मुताबिक, बाबरी मस्जिद पर किसी भी वक्फ का कोई दावा नहीं बनता, न तो सुन्नी वक्फ बोर्ड और ना ही शिया वक्फ बोर्ड इस विवादित स्थान का असली वारिस हो सकता है. उनके मुताबिक यह जमीन जिस मुगलवंश की मिल्कियत रही है वहीं इसके बारे में फैसला कर सकता है.

Image result for prince yakub mughal

पत्रकारों के सामने आए प्रिंस याकूब ने बाबर के वंशज होने का न सिर्फ दावा किया बल्कि डीएनए रिपोर्ट की वह कॉपी भी सौंपी जिसमें अदालत ने उन्हें मुगलों का असली वारिस करार दे रखा है.