बू-ढ़े हो चुके हैं ये क्रिकेटर्स लेकिन आज भी मैदान पर छाया है इनका ज-लवा, पहला नाम खुश कर देगा !

जब कभी भी सीमित क्रिकेट की बात होगी तो उसमे वे-स्टइंडीज के तू-फानी बल्लेबाज क्रि,स गेल का नाम जरूर आएगा.जिस प्रकार से उ-म्र के इस प,ड़ाव में गेंदबाजों पर क-हर बनकर टू,ट रहे हैं.उसे देखते हुए ऐसा प्र,तीत होता है की वा-स्तव में वो सीमित ओवरों के क्रिकेट के यू-निवर्स बॉ-स  कहलाने के काबि-ल हैं.फिलहाल कैरि-बियाई खिलाड़ी इस वक़्त पी-सीएल यानी पाकिस्तान सु-पर ली-ग में क्वे-टा ग्लै-डिएटर्स की तरफ से खेल रहे हैं.


ज,बरदस्त कैरि-बियाई खिलाड़ी 41 वर्ष से भी ज्यादा समय के हो गए हैं लेकिन जिस तरह से वो गेंदबाजों की धु-नाई करते हैं.उसे देखते हुए बस यही कहा जाना उचित होगा की गेल के लिए उम्र मात्र एक नंबर हैं. हालांकि अभी हाल में सं-पन्न हुए टी-10 प्र-तियोगिता में गेल का बल्ला शुरुआती मैचों में नहीं चला था तो क-यास लगाया जा रहा था की उनपर अब उ-म्र हा-वी हो रही है लेकिन उन्होंने ज,बरदस्त वापसी की.

लाहौर कलं-दर्स के खि-लाफ दिखाई आ,तिशबा-जी PSL में गेल सरफराज खान की कप्तानी वाली टीम क्वे-टा ग्लै-डिएटर्स के हिस्सा हैं. इस दौरान गेल ने महज 40 गेंदों में 5 छक्के और इतने ही चौके की बदौ’लत 68 रनों की आ-तिशी पारी खेली.

पॉली’क्रि’क के अनुसार गेल की ये पारी लाहौर क-लंदर्स के मो,हम्मद ह-फ़ीज़ ने ख़राब कर दी.ह’फ़ीज़ ने अपने पी-सीएल इतिहास में सबसे तेज नि,जी पचा,सा लगाया. ह,फीज ने अपना अर्धशतक मात्र 24 गेंदों में पूरा किया ह-फ़ीज़ ने नाबाद 73 और फ-खर ज-मान ने नाबाद 82 रनों की पारी खेली और टीम को जीत दिलायी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page