जब शाहिद अफरीदी के तूफ़ान में उड़ा भारत, कैफ ने बचाई थी भारत की लाज, ठोका था सबसे तेज शतक

आज के इस लेख में हम आपको शाहिद अफरीदी के द्वारा भारत के विरुद्ध खेली गयी एक आतिशी पारी के बारे में बताने जा रहे हैं। शाहिद अफरीदी ने तूफानी पारी खेलकर टीम इंडिया को शिकस्त दी थी। दुनिया के सबसे विस्फोटक बल्लेबाजों में से शाहिद अफरीदी ने 15 अप्रैल  के दिन 2005 में महज 45 गेंदों में सेंचुरी ठोक दी थी।

Usman Satti on Twitter: "After getting dropped form national side Shahid Afridi made a rocking comeback in 2004 in his first match vs India he smashed 80 runs on 58 balls also15 अप्रैल, 2005 को कानपुर के ग्रीनपार्क स्टेडियम खेले गए इस मैच में अफरीदी ने 46 गेंदों की इस पारी में 10 चौके और 9 छक्के लगाए थे। यह भारत के खिलाफ किसी भी बल्लेबाज द्वारा लगाया गया सबसे तेज वनडे शतक था। मैच में भारतीय टीम ने पहले बैटिंग करते हुए 50 ओवरों में 6 विकेट के नुकसान पर 249 रन बनाए थे। भारत के लिए कप्तान राहुल द्रविड़ ने 115 गेंदों में 86, जबकि मोहम्मद कैफ ने 88 गेंदों में 78 रन की पारी खेली थी।

CricYes on Twitter: "#OnThisDay in 2005, Shahid Afridi Smashed 2nd Fastest Hundred (102 off 45 balls) while chasing against India at Kanpur to help Pakistan win by 8 wickets chasing 249. #Cricket #जवाब में पाकिस्तान ने अफरीदी की 221.73 के स्ट्राइकरेट से की धांसू बैटिंग की बदौलत 42.1 ओवरों में 5 विकेट से मुकाबला जीत लिया था। कैफ ने शानदार पारी खेलकर टीम इंडिया की लाज रखी। पाकिस्तान के लिए अफरीदी के अलावा शोएब मलिक ने 60 गेंदों में 41 और कप्तान इंजमाम उल हक ने 33 गेंदों में 24 रन बनाए थे। भारत के लिए अनिल कुंबले ने दो, जबकि हरभजन सिंह, सचिन तेंडुलकर और वीरेंदर सहवाग ने एक-एक विकेट झटके थे। अफरीदी को मैन ऑफ द मैच चुना गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page