किसी आलिशान महल से कम नहीं है सैफ-करीना का पटौदी पै-लेस, कीमत जानकर नहीं होगा यकीन

सैफ अली खान और करीना कपूर खान फिल्म इंडस्ट्री के कप,ल कहलाते हैं। इस स्टार जोड़ी ने खूब नाम और दौ,लत क-माया है सैफ को फिल्म इंडस्ट्री में न-वाब कहा जाता है तो वा-इफ करीना को उनकी बे-गम सा-हिबा। दरअसल सैफ प-टौदी रि-यासत के न-वाब हैं पिता मंसूर अली खान के नि,धन के बाद उन्हें प-टौदी का न-वाब घो-षित किया जा चुका है।

दिल्ली के नजदीक गुरूग्राम के प-टौदी में उनका एक भ-व्य पै-लेस है। अक्सर सैफ करीना बेटे तैमूर के साथ प-टौदी पै-लेस में रहने जाते हैं। सैफ अली खान के इस पैले-स को इब्राहिम को-ठी के नाम से भी जाना जाता है। पटौदी हाउस हरियाणा के गुरुग्राम से 26 किलोमीटर दूर अरावली की प-हाडिय़ों में है पै-लेस के चारो तरफ हरियाली है।

अरावली पहाडिय़ों में बसा पटौदी हाउस 200 साल पुराना है। कहा जाता है पटौदी पै-लेस की कीमत 800 करोड़ है पटौदी के परिवार के पास 2700 करोड़ की स-म्पति है। टा,इगर पटौदी के नि,धन के पास सैफ की मां शर्मिला इसकी देख-रेख करती हैं।

पटौदी पै-लेस की डि-जाइनिंग बहुत बेहतरीन है। पूरे पैलेस को सफेद रंग से रंगा गया है  पैलेस को बहुत ही खूबसूरती से सजाया गया है। सैफ अली खान का यह पैलेस करीब 10 एकड़ में फैला हुआ है, जिसमें कुल 150 कमरे हैं इसके साथ ही महल में 7 ड्रे,सिंग रूम, 7 बि,लियर्ड रूम और खूबसूरत ड्रा,इंग रूम और डा-इनिंग रूम भी है यहां 100 से ज्यादा नौ,कर है। इस पैलेस में बहुत सुंदर गार्डन बना हुआ है। साथ ही कई सारे अ,स्तबल, गै,राज और खेल के मैदान बने हुए हैं ।

इं-डियन क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और पटौदी रि-यासत के 9वें न-वाब मंसूर अली  की 2011 में मौ-त के बाद सैफ अली खान को पटौदी रि-यासत का 10वें नवाब बना दिया था। प-टौदी पैलेस में फिल्म वी,र जारा की शूटिंग हुई थी फिल्म में इसे प्रीति जिंटा के घर के तौर पर दिखाया गया था। इस पैलेस में कई और फि-ल्मों की शूटिंग भी की गई है.पटौदी पैलेस किसी आलिशान महल से कम नहीं पैलेस का इं-टीरियर बहुत ही खूबसूरत और एं-टीक तरीके से किया गया है। पटौदी रि-यासत की स्था-पना 1804 में हुई थी यह रि-यासत का पटौदी हाउस के नाम से पूरी दुनिया में जाना जाता है। आपको बता दें कि मंसूर अली खान को मृ,त्यु के बाद पटौदी पैलेस में ही द,फना दिया था।

यह भी कहा जाता है कि पटौदी रि-यासत के पू-र्वजों को भी पै-लेस के आस-पास ही द,फनाया गया था। कहा जाता है कि सैफ के पिता मंसूर अली खान जब गु,जर गए तो पटौदी पैलेस को नी,मराना हो-टल्स को किराए पर देना पड़ा था लेकिन इसे वापस हासिल करने के लिए उन्हें को भा-री कीमत चु-कानी पड़ी थी।

एक इंटरव्यू में एक्टर ने कहा था कि जो घर वि,रासत में मुझे मिलना चाहिए था उसे मुझे फिल्मों से पैसे कमाकर वापस लेना पड़ा महल को वापस हासिल कर सैफ ने इसको अपने हिसाब से बनवाया और इं-टीरियर कराया। इसके डि-जायन में बदलाव के लिए उन्होंने इं-टीरियर डि-जायनर दर्शिनी सिंह की मदद ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page