जीत के बाद भारत में टीम इंडिया का दिल्ली एयरपोर्ट पर ही जोरदार स्वागत हुआ और होटल में भी उत्साह का माहौल देखने को मिला। इस दौरान खिलाड़ियों के हाथ में टी20 वर्ल्ड कप की चमचमाती ट्रॉफी भी नजर आई।

भारतीय टीम को नहीं दी गई टी20 वर्ल्ड कप की असली ट्रॉफी

भारतीय खिलाड़ियों ने कुछ समय होटल में आराम किया और फिर ट्रॉफी के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाक़ात करने के लिए भी गए। इस दौरान मोदी जी ने खिलाड़ियों से बातचीत की और उन्हें बधाई भी दी। वहीं, बीसीसीआई की तरफ से प्रधानमंत्री को टीम इंडिया की जर्सी भी दी गई। इसके बाद टीम इंडिया का कारवां शाम को दिल्ली से मुंबई के लिए रवाना हुआ और फिर वहां पर विक्ट्री परेड हुई और वानखेड़े स्टेडियम में एक शानदार सम्मान समारोह भी आयोजित हुआ।

हालांकि, इन सबके बीच टीम इंडिया की ट्रॉफी असली है या नकली, इसको लेकर भी चर्चा हो रही है। बता दें कि भारतीय कप्तान रोहित शर्मा और टीम इंडिया के अन्य खिलाड़ी जिस ट्रॉफी के साथ फैंस का अभिवादन स्वीकार कर रहे थे, वो असली नहीं है।

दरअसल, आईसीसी की प्रथा है कि विजेता टीम को केवल पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन के दौरान ही असली ट्रॉफी दी जाती है और उसके बाद केवल उसके जैसी दिखने वाली एक दूसरी ट्रॉफी टीम को दे दी जाती है। असली ट्रॉफी को आईसीसी अपने पास रख लेता है। कुछ ऐसा ही भारत के साथ भी हुआ है। इसी वजह से टीम इंडिया को असली ट्रॉफी नहीं मिली।