53 छक्के-चौके जड़ पृथ्वी शॉ ने ठोके 379 रन, टूटने से बचा लारा का रिकॉर्ड, लगाई रिकार्ड्स की झड़ी, बने नंबर 1 बैटर

भारतीय क्रिकेट टीम से बाहर चल रहे पृथ्वी शॉ ने रणजी ट्रॉफी में मंगलवार (10 जनवरी) को शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने मुंबई की ओर से खेलते हुए असम के खिलाफ ग्रुप-बी में तूफानी दोहरा शतक लगाया। उन्होंने अपने करियर की सबसे बड़ी पारी खेलते हुए 379 रन बनाए। शॉ के साथ-साथ भारत के अनुभवी बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे ने भी अपनी पारी से सबको आकर्षित किया। रहाणे 131 रन बनाकर नाबाद हैं। पृथ्वी शॉ ने 383 गेंदों पर 49 चौके और 4 छक्के जड़ते हुए 379 रन बनाये|

पृथ्वी शॉ को करीब 18 महीने से भारतीय टीम में नहीं चुना गया है। उन्होंने जुलाई 2021 में अपना पिछला टी20 मैच श्रीलंका के खिलाफ खेला था। पृथ्वी की पारी की बदौलत मुंबई ने पहले दिन दो विकेट पर 397 रन बनाए। पृथ्वी ने मुशीर खान के साथ पहले विकेट के लिए 123 रन की साझेदारी की। मुशीर 72 गेंद पर 42 रन बनाकर आउट हुए। पृथ्वी ने इसके बाद अरमान जाफर के साथ दूसरे विकेट के लिए 74 रन जोड़े। अरमान 48 गेंद पर 27 रन बनाकर पवेलियन लौटे।

197 रन पर दो विकेट गिर जाने के बाद पृथ्वी को कप्तान अजिंक्य रहाणे का साथ मिला। दोनों ने मिलकर टीम को पहले दिन और कोई झटका नहीं लगने दिया। पृथ्वी और रहाणे ने तीसरे विकेट के लिए नाबाद 200 रन की साझेदारी कर ली है। सरफराज ने 283 गेंद की पारी में 33 चौके लगाए हैं। उनके बल्ले से एक छक्का भी निकला है। वहीं, रहाणे ने 140 गेंद की पारी में पांच चौके लगाए हैं।

मुंबई की नजर असम के खिलाफ बोनस पॉइंट हासिल करने पर है। उसे सौराष्ट्र के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। किसी भी फॉर्मेट और किसी भी स्तर (अंतरराष्ट्रीय या घरेलू) पर पृथ्वी का यह सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। इससे पहले उनका उच्चतम स्कोर नाबाद 227 रन था। यह पारी उन्होंने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में खेली थी।

भारत के लिए टेस्ट मैच में उनका उच्चतम स्कोर 134, वनडे में 49 और टी20 में शून्य है। प्रथम श्रेणी में उनका उच्चतम स्कोर 202 रन था। वहीं, लिस्ट ए में उन्होंने सबसे बड़ी पारी नाबाद 227 रन और टी20 फॉर्मेट में 134 रन की खेली थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page