एक ही टीम में खेलेंगे कोहली-बाबर और शाहीन-उमरान, 16 साल बाद फिर खेला जायेगा ये टूर्नामेंट

Advertisement

अगर सब कुछ ठीक रहा, तो भारत और पाकिस्तान के क्रिकेटरों को 2023 के मध्य में एफ्रो-एशिया कप के रीबूट सीजन में टीम में खेलते हुए देखा जा सकता है. एफ्रो-एशिया कप 2005 और 2007 के बाद नहीं खेला गया था, जबकि भारत और पाकिस्तान ने 2012/13 से द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेले हैं और 2007 के बाद से टेस्ट सीरीज में आमने-सामने नहीं आए हैं.

Advertisement

एक साथ खेलते नजर आएंगे बाबर-कोहली
दोनों टीमें अब केवल एक-दूसरे का सामना विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप (डब्ल्यूटीसी) को छोड़कर आईसीसी टूर्नामेंट में करती हैं. फोर्ब्स डॉट कॉम की एक रिपोर्ट के अनुसार, भारत और पाकिस्तान के खिलाड़ी जून-जुलाई 2023 में टी20 फॉर्मेट में वापसी करने वाले एफ्रो-एशिया कप के साथ एक ही टीम में खेल सकते हैं. इस बारे में कुछ भी पुष्टि नहीं की गई है कि टूर्नामेंट कब और कहां होगा.

Advertisement

सालों बाद होगा टूर्नामेंट
लेकिन इसके लिए बीसीसीआई के मानद सचिव जय शाह, अफ्रीकी क्रिकेट संघ के नए अध्यक्ष सुमोद दामोदर और विकास समिति के एसीसी अध्यक्ष महिंदा वल्लीपुरम के बीच चर्चा चल रही है, जो आईसीसी बोर्ड में एसोसिएट सदस्य निदेशक भी हैं. इस साल अप्रैल में आईसीसी बोर्ड की बैठक होने वाली है. रिपोर्ट में कहा गया, ‘हमें अभी तक बोडरें से पुष्टि नहीं मिली है. हम अभी भी श्वेत पत्र पर काम कर रहे हैं और इसे दोनों बोडरें को सौंप दिया जाएगा. लेकिन हमारी योजना भारत और पाकिस्तान के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के लिए एशियाई एकादश में खेलने की है. एक बार योजनाओं को अंतिम रूप दिया गया है हम प्रायोजन और एक प्रसारक के लिए बाजार में जाएंगे। यह एक बड़ा टूर्नामेंट होगा.’

प्लेइंग 11 में होंगे भारत-पाक के खिलाड़ी
दामोदर भी एफ्रो-एशिया कप के तहत भारत और पाकिस्तान के खिलाड़ियों को एक टीम में लाने की संभावना के बारे में ऐसा ही महसूस करते हैं. उन्होंने कहा, ‘मैं पुल बनाने और खिलाड़ियों को एक साथ खेलने की अनुमति देने का अवसर देखना पसंद करूंगा. मुझे यकीन है कि खिलाड़ी चाहते हैं कि ऐसा हो और राजनीति को इससे दूर रखें. पाकिस्तान के खिलाड़ियों को देखना एक खूबसूरत बात होगी.’

Advertisement

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि एफ्रो-एशिया कप को वार्षिक आयोजन बनाने और सहयोगी देशों के खिलाड़ियों को मौका देने की योजना है. इस टूर्नामेंट के अलावा एसीसी एशिया कप के लिए क्वालीफाई करने के लिए अंडर 16, अंडर 19 एफ्रो-एशिया कप, अंडर 19 महिला एशिया कप, अंडर 13 और अंडर 16 एशिया जूनियर कप और एसोसिएट्स के लिए एसीसी वेस्ट और ईस्ट कप शुरू करके आगे बढ़ना चाहती है.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page