केन्या ने रचा इतिहास, टी20 में बनाया अद्भुत World Record… मात्र 15 गेंदों पर 10 विकेट से जीता मैच

Advertisement
4

टी20 क्रिकेट में छोटी टीमें कई बार ऐसे चमत्कार दिखाती हैं जिन्हे देख सब हैरान रह जाते हैं. टी20 विश्वकप में अंडर डॉग कही जाने वाली टीमों ने कई बड़े उलटफेर किए. ऐसा ही एक चमत्कार रविवार को देखने को मिला. जहां केन्या ने मात्र 15 गेदों पर 10 विकेट से मैच जीतकर इतिहास रच दिया. यह टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में शेष विकेट और गेंद के लिहाज से सबसे बड़ी जीत है.

Advertisement

दरअसल, आईसीसी मेंस टी20 वर्ल्ड कप सब रीजनल अफ्रीका क्वालीफायर ( ICC Mens T20 World Cup Sub Regional Africa Qualifier A) के 10वें मुकाबले में केन्या और माली की टीमें आमने सामने थीं. इस मुकाबले में माली टॉस जीतकर पहले बैटिंग का फैसला लिया. माली के कप्तान चेइक का टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला उस समय गलत साबित होता हुआ दिखाई दिया जब उनकी टीम 8 रन के कुल स्कोर पर अपने 6 विकेट गंवा चुकी थी. उसकी ओर से सिर्फ एक बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा पार कर सका.

Advertisement

माली टीम की ओर से थियोडोरे मकालू ने सबसे ज्यादा 12 रन बनाए. उन्होंने इसके लिए 20 गेंदों का सहारा लिया. 6 बैटर तो खाता भी नहीं खोल सके. माली ने इस तरह 10.4 ओवर में अपनी सभी विकेट गंवाकर 30 रन बनाकर पवेलियन लौट गई. केन्या की ओर से मध्यम गति के तेज गेंदबाज पीटर लंगाट ने सबसे ज्यादा 6 विकेट लिए. 31 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी केन्या की टीम को ओपनर पुष्कर शर्मा और कोलिंस ओबुया ने अच्छी शुरुआत दिलाई. दोनों ने महज 2.3 ओवर में 34 रन बनाकर मुकाबले को अपने नाम कर लिया. केन्या को यह जीत 105 गेंद बाकी रहते मिली जो टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में किसी टीम की गेंदों के लिहाज से सबसे बड़ी जीत है.

इससे पहले यह रिकॉर्ड ऑस्ट्रिया के नाम था , जिसने 31 अगस्त 2019 को तुर्की के खिलाफ 2.4 ओवर में 10 विकेट से जीत दर्ज की थी. यानी तुर्की ने तब 104 गेंद बाकी रहते यह वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था. उस मुकाबले में तुर्की ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 32 रन बनाए थे. उसकी ओर से कोई भी बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा नहीं छू सका. उस समय तुर्की के 6 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा नहीं छू पाए थे. जवाब में ऑस्ट्रिया ने अरसलान आरिफ के नाबाद 26 रन के दम पर मुकाबले को अपने नाम कर लिया था.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page