अल्लाह के बाद सचिन ही थे जिन्होने मुझे… शोएब अख्तर ने 23 साल बाद सचिन के बारे में कही ये बात

Advertisement

पाकिस्तान के पूर्व स्टार गेंदबाज़ शोएब अख्तर अपने बेबाक बयानों के लिए जाने जाते हैं। शोएब ने अपने इंटरनेशनल करियर में दुनियाभर के दिग्गज बल्लेबाज़ों को अपनी रफ्तार से परेशान किया। अब वह एक एक्सपर्ट के तौर पर क्रिकेट से जुड़े हुए हैं। हाल ही में शोएब ने 23 साल बाद सचिन तेंदुलकर से जुड़े एक पुराने किस्से को याद किया है। शोएब ने कहा अल्लाह के बाद सचिन हैं जिन्होंने मुझे स्टार बनाया।

Advertisement

शोएब अख्तर ने सन 1999 से जुड़े टेस्ट मैच को याद करते हुए कहा, ‘मैंने सकलैन मुश्ताक से पूछा कि क्रिकेट का भगवान कौन है? उन्होंने कहा सचिन तेंदुलकर। मैंने उनसे बोला अगर मैं सचिन को आउट कर दूं तो क्या होगा। वह बोले मैंने पिछले दो मैचों में उन्हें आउट किया है। हमारे बीच बहस शुरू हुई कि उन्हें इस मैच में कौन आउट करेगा।’

Advertisement

शोएब टेस्ट मैच को याद करते हुए आगे बोले, ‘जब सचिन मैदान पर स्ट्राइक लेने के लिए तैयार हो रहे थे, तब वसीम अकरम ने मुझे बॉल को रिवर्स स्विंग करवाने की सलाह दी। उन्होंने मुझे कहा कि बॉल पिच पर पड़ने के बाद विकेटो पर ही खत्म होनी चाहिए। मैं उन्हें आउट करने को लेकर काफी चिंतित था। लेकिन जब मैंने दौड़ना शुरू किया. तो मेरा पूरा फोकस मेरे रन-अप पर था क्योंकि मैं उसे पूरी तरह से सही करना चाहता था।’

a
रावलपिंडी एक्सप्रेस ने कहा, ‘जिस लम्हें में सचिन ने अपना बल्ला उठाया, मुझे समझ आ गया था कि वह आउट होने वाले हैं। उनकी बैकलिफ्ट काफी ऊंची थी और मुझे पता था कि बॉल रिवर्स स्विंग हो रही है। मैं रिजल्ट से बिल्कुल भी सरप्राइज नहीं था क्योंकि मैंने वही प्लान किया था।’

पाकिस्तानी स्टार ने आगे कहा कि जब मैंने सचिन को आउट किया तब ग्राउंड पर बिल्कुल सन्नाटा छा गया। वहां सिर्फ हमारी आवाज आ रही थी। उन्होंने कहा, ‘सचिन को आउट करने के बाद मैंने उन्हें ये बात बताई कि मुझे अल्लाह के बाद किसी ने स्टार बताया तो वो तुम हो। उन्होंने कहा, ऐसा क्यों? मैं बोला, अगर मैं तुम्हें आउट नहीं करता तो मेरा नाम नहीं बनता इसलिए। सचिन मुझसे बोले ऐसा नहीं तुम इसे डिजर्व करते हो।’

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page