धोनी फिर बने CSK के कप्तान, जडेजा ने 37 दिन में ही छोड़ दी कप्तानी

Advertisement
4

रवींद्र जडेजा ने चेन्नई सुपर किंग्स की कप्तानी वापस महेंद्र सिंह धोनी को सौंप दी है. आईपीएल 2022 शुरू होने के कुछ दिन पहले एमएस धोनी ने रवींद्र जडेजा को टीम का कप्तान बनाया था. जडेजा के नेतृत्व में सीएसके का प्रदर्श काफी निराशाजनक रहा. उनकी कप्तानी ने सीएसके ने 8 मैच खेले, जिनमें 2 जीते और 6 हारे. चेन्नई सुपर किंग्स ने अपने एक बयान में कहा कि जडेजा ने धोनी को दोबारा कप्तानी सौपने की पेशकश की जिसे धोनी ने स्वीकार लिया. धोनी ने बतौर कप्तान सीएसके को 4 बार आईपीएल का खिताब दिलाया है.

Advertisement

अब एमएस धोनी एक बार फिर से टीम की कमान संभालते दिखेंगे. टीम को रविवार को सनराइजर्स हैदराबाद से भिड़ना है. टीम को मौजूदा सीजन के प्लेऑफ में पहुंचने के लिए सीजन के बचे अपने सभी मैच जीतने होंगे. इसके बाद भी टेबल का समीकरण देखना होगा. लेकिन जडेजा के कप्तानी छोड़ने के बाद सबसे बड़ा सवाल यही है कि 40 साल के धोनी के बाद टीम की कमान किसे सौंपी जाएगी.

Advertisement

एमएस धोनी आईपीएल इतिहास के सबसे अनुभवी कप्तानों में से एक हैं. उन्होंने 204 मैच में कप्तानी की है. 121 में जीत मिली है जबकि 82 में हार. अन्य किसी कप्तान के पास आईपीएल में 150 मैच की कप्तानी करने का अनुभव भी नहीं है. सीएसके मैनेजमेंट की बात की जाए तो धोनी उसके सबसे भरोसमंद खिलाड़ी रहे हैं. टीम ने मौजूदा सीजन में रवींद्र जडेजा को सबसे अधिक 16 करोड़ रुपए में रीटेन किया था, जबकि धोनी को सिर्फ 12 करोड़ मिले थे. लेकिन जडेजा के बतौर कप्तान फेल होने के बाद से टीम मैनेजमेंट को नए सिरे से अब प्लान बनाना होगा.

एमएस धोनी की अगुवाई में चेन्नई का प्रदर्शन 2020 आईपीएल में सबसे खराब रहा था. टीम पहली बार प्लेऑफ में जगह नहीं बना सकी थी. तब धोनी की कप्तानी पर सवाल उठे थे. लेकिन उन्होंने 2021 में टीम को चौथी बार चैंपियन बनाकर सभी आलोचकों के मुंह बंद कर दिए थे.

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page