3 मैच में ठोके 601, तोड़ा ब्रेडमैन का रिकॉर्ड, डेब्यू में जड़ा तिहरा शतक, फिर भी नही मिला टीम इंडिया का टिकट

Advertisement

बिहार के मोतिहारी के लाल साकिबुल ने अपने प्रदर्शन से सबका ध्यान खींचा है. प्रथम श्रेणी क्रिकेट में डेब्यू मैच में ही उन्होंने तिहरा शतक लगा दिया था. ये कारनामा करने वाले वो दुनिया के पहले बल्लेबाज़ बन गए हैं. साकिबुल लगातार घरेलू क्रिकेट में अपनी प्रतिभा को साबित कर रहे हैं.

Advertisement

उन्होंने बिहार अंडर-23, मुश्ताक अली (20-20) क्रिकेट टूर्नामेंट और विजय हजारे (50-50) ट्रॉफी में भी यादगार प्रदर्शन किया है. बिहार अंडर-23 में उन्होंने 306, 281 और 147 रन की पारी खेली थी. इसके अलावा विजय हजारे ट्रॉफी में बिहार के लिए 113 व 94 रन और मुश्ताक अली में भी एक अर्धशतकीय पारी खेली थी.

Advertisement

डेब्यू मैच में ठोका तिहरा शतक

गनी ने मिजोरम के खिलाफ बिहार के रणजी ट्रॉफी मैच में डेब्यू मैच में 405 गेंदों पर 341 रन बनाए थे. साकिबुल गनी ने रणजी ट्राफी के इस सीजन में तीन मैचों में 601 रन बनाये. गनी ने 150 की औसत से रन बनाये. वहीं इस दौरान गनी ने एक तिहरा शतक जड़ते हुए दो शतक बनाये.

Advertisement

Sakibul Ghani Creates World Record On Ranji Trophy Debut; Scores Triple  Centuryअपनी शानदार बल्लेबाजी के दम पर पूरे विश्व भर में चर्चा बटौर रहे शकीबुल गानी (Shakibul Gani) की जिंदगी में एक समय ऐसा भी था जब उनके पास क्रिकेट बीत खरीदने तक के पैसे नहीं थे. उस समय उनकी माँ ने उनको बल्ला दिलाने के लिए अपने गहने तक गिरवी रख दिए थे. साकिबुल गनी के पिता मो. मन्नान (Mohammad Mannan) जन वितरक प्रणाली के तहत डीलर का काम करते हैं

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page