14वें बच्चे को जन्म देते हुए हुई थी मुमताज की मौ’त, तन्हा शाहजहाँ ने ऐसे गुजारी जिंदगी, फिर एक साल बाद…

Advertisement

मुमताज को कौन नहीं जानता है लेकिन उनके बारे कुछ ऐसी ही बातें है जो शायद लोग नहीं जानते हैं.

मुमताज की जिंदगी से जुड़ी कुछ अहम बातें हम आपको इस लेख के माध्यम से बताने जा रहे हैं. मुग़ल शा’स’क शाहजहाँ की पत्नी मुमताज की मौ’त 17 जून 1631 को हुई थी. जानकारी के अनुसार मुमताज की मौ’त शाहजहां के 14वें बच्चे को जन्म देते वक्त मध्य प्रदेश में हो गई थी.

Advertisement
Advertisement

शाहजहां ने मुमताज की याद में ताजमहल का निर्माण करवाया था जिसे बनने में करीब 20 साल लग गए थे. मुमताज का जन्म 27 अप्रैल 1593 में आगरा में हुआ था और मुमताज का नाम अर्जुमंद बानो था.

आपको बता दें वह शाहजहां की मां नूरजहां की भतीजी थीं. कहा जाता है कि अर्जुमंद बानो शाहजहां को पहली नजर में ही पसंद आ गई थीं. जानकारी के अनुसार शाहजहां की सगाई मुमताज से 1607 में ही हुई थी लेकिन शादी सगाई के पांच वर्ष बाद हुई.

Advertisement

कहा जाता है की दोस्तों के कहने पर शादी की तारीख 5 साल बाद की तय की गई थी ताकि विवाहित जीवन में किसी तरह की कोई बाधा ना आए. मुमताज की मौ’त के बाद शाहजहां टूट गए थे उनकी मौ’त के बाद एक साल तक एकांत जगह पर रहे.

fifth mughal emperor shah jahan death anniversary todayमुमताज की मौ’त के एक साल बाद उनकी याद में ही शाहजहा ने ताजमहल का निर्माण करवाया था.

(साभार)

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *